Latest News

TOP5 (5 पंक्तियों में ...)
Social (सामाजिक)

Controversy

technology

International

Sports

Recent Posts

Monday, 27 March 2017

मैं आम आदमी पार्टी में घुटन महसूस कर रहा था: आम आदमी पार्टी विधायक वेदप्रकाश - aap mla ved prakash joins bjp



नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी को बड़ा झटका लगा है. बवाना से आम आदमी पार्टी विधायक वेद प्रकाश ने बीजेपी ज्वाइन कर ली है. वेद प्रकाश ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि मैं किसी लालच में बीजेपी में नहीं आया. साफ-सुथरी राजनीति करने आया हूं. दिल्ली हर जगह रिश्वत चल रही है. नाकाम और बड़बोले लोगों में फंस गया हूं. अभी मेरे पास तीन साल का समय है. मैं बीजेपी में कोई पद नहीं लूंगा और पीएम मोदी की नीति से जुड़कर काम करूंगा और चाहूंगा कि पीएम मोदी का आशीर्वाद मिलता रहे. मैं विधानसभा से इस्तीफा देने जा रहा हूं.

वेद प्रकाश ने आरोप लगाया कि अरविंद केजरीवाल को कुछ लोगों ने घेर रखा है. जो उन्हें कानों में बता दिया जाता है, वे यकीन कर लेते हैं. केजरीवाल को नहीं पता कि क्या चल रहा है. वह सिर्फ यही देखते हैं कि पीएम मोदी को और उप राज्यपाल को कैसे बदनाम किया जाए. आज तक जो भी काम हुआ है क्या उसे प्रोपर तरीके से ऊपर भेजा गया. सिर्फ यही नहीं चलेगा कि वे (केंद्र) काम नहीं करने देते. हम भी तो ठीक होने चाहिए. दिल्ली का हर आदमी ठगा हुआ महसूस कर रहा है.  मैं जाली खेल दिखाने वालों में फंस गया था. वेद प्रकाश ने यह भी कहा कि मैं काम करना चाहता हूं ताकि अपनी शक्ल अपने लोगों को दिखा सकूं.

वेदप्रकाश ने कहा कि मैं आम आदमी पार्टी में घुटन महसूस कर रहा था. वे विधानसभा चुनाव के दौरान जनता से किए वादों को पूरा करने में असफल रहे. करीब 35 विधायक आम आदमी पार्टी के नेतृत्व से खुश नहीं हैं.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

विधानसभा का घेराव करने सड़क पर उतरे सांसद पप्पू यादव की पार्टी के कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच झड़प - Pappu yadav supporters clash with police



पटना: बिहार में बिजली की दरों में बढ़ोतरी के खिलाफ और बिहार कर्मचारी चयन आयोग (बीएसएससी) परीक्षा में प्रश्नपत्र लीक मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने की मांग को लेकर प्रदर्शन के दौरान सोमवार को सांसद पप्पू यादव की पार्टी के कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच झड़प हो गई, जिसमें कई लोग घायल हो गए. जन अधिकार पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ता विधानसभा का घेराव करने सड़क पर उतरे थे. पुलिस को प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े और लाठीचार्ज करना पड़ा. प्रदर्शनकारियों ने भी पुलिस पर पथराव किया. इस झड़प में दोनों तरफ के करीब एक दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए.

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार पटना के गर्दनीबाग स्थित मैदान में सुबह ही सैकड़ों कार्यकर्ता जुट गए थे, और इसके बाद पप्पू यादव के नेतृत्व में कार्यकर्ता विधानसभा का घेराव करने जा रहे थे, तभी पुलिस ने पप्पू समर्थकों को रोकना चाहा. पुलिस के अनुसार, विधानसभा की ओर जाने से रोके जाने पर कार्यकर्ता आक्रोशित हो गए, उन्होंने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया. जवाब में पुलिस ने भी जमकर लाठियां भांजीं और कार्यकर्ताओं को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा. पुलिस ने कार्यकर्ताओं को आगे बढ़ने से रोकने के लिए पानी की बौछार (वॉटर कैनन) का भी इस्तेमाल किया.

प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले भी छोड़ने पड़े. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि प्रदर्शनकारियों द्वारा की गई पत्थरबाजी में पांच पुलिसकर्मियों को चोटें आई हैं. उन्होंने कहा कि प्रदर्शनकारियों के हमले के बाद पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा. लाठीचार्ज के बाद पप्पू यादव अपने समर्थकों को छोड़कर वहां से निकल गए.

बाहुबली सांसद ने समाचार एजेंसी आईएएनएस से फोन पर कहा कि सरकार उनकी हत्या करवाना चाहती है. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी के लोकतांत्रिक तरीके से प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठी चलाई, जिसमें 200 से ज्यादा कार्यकर्ता घायल हो गए. महिलाओं को भी अपराधियों की तरह पीटा गया. बिहार के मधेपुरा से सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने कहा कि सरकार बिजली दरों में बढ़ोतरी कर जनता पर बोझ डाल रही है, जिसे उनकी पार्टी कतई बर्दाश्त नहीं करेगी.

उन्होंने कहा, "आज आजादी खतरे में पड़ गई है और मौलिक अधिकारों का हनन हो रहा है... बीएसएससी घोटाले की सीबीआई जांच होनी चाहिए और मंत्रियों, विधायकों व अधिकारियों की संपत्ति की जांच होनी चाहिए..."


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

शिवसेना राष्ट्रपति चुनाव में मोहन भागवत को उम्मीदवार घोषित कर सकती है - Shivsena will declear mohan bhagwat for president condidate



नई दिल्ली: सत्ता के गलियारों में अगले राष्ट्रपति को लेकर सरगर्मी तेज है. बीजेपी की ओर से सीनियर नेता लालकृष्ण आडवाणी को इस ओहदे का प्रबल दावेदार माना जा रहा है. लेकिन शिवसेना ने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को राष्ट्रपति बनाने की मांग की है.


पार्टी के सांसद संजय राउत का कहना था कि भारत को हिंदू राष्ट्र बनाने के लिए भागवत बतौर अगले राष्ट्रपति सही पसंद होंगे. उनके मुताबिक, 'ये देश का सबसे ऊंचा ओहदा है. इसके लिए किसी साफ छवि के शख्स को ही चुना जाना चाहिए. मैंने सुना है कि जिन उम्मीदवारों पर चर्चा हो रही है, उनमें मोहन भागवत भी शामिल हैं.

संजय राउत ने संकेत दिये कि शिवसेना उन्हें राष्ट्रपति चुनाव में उम्मीदवार घोषित कर सकती है. उन्होंने कहा, 'अगर भारत को हिंदू राष्ट्र बनाना है तो भागवत सही पसंद होंगे. हालांकि इस बारे में आखिरी फैसला उद्धव ठाकरे लेंगे.'


अगले राष्ट्रपति उम्मीदवार को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सहयोगी पार्टी के नेताओं को डिनर पर चर्चा के लिए बुलाया गया है. जब राउत से पूछा गया कि क्या शिवसेना इस चर्चा में शामिल होगी, उन्होंने जवाब दिया कि 'मातोश्री में भी अच्छा खाना मिलता है.' बीजेपी और शिवसेना के बीच महाराष्ट्र में रिश्ते मधुर नहीं है. लिहाजा राउत इस मामले में सहयोग पर कोई सीधा जवाब देने से बचे. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल इस साल 25 जुलाई को खत्म हो रहा है. इससे पहले अगले राष्ट्रपति को चुना जाना है.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

हार्दिक पटेल के मामले में जांच संबंधी अधिकारी के बाहर होने से समर्पण करने के बावजूद गिरफ्तारी नहीं - Gujrat police not arrested hardik patel



अहमदाबाद: गुजरात में पाटीदार आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल सोमवार सुबह अहमदाबाद क्राइम ब्रांच पहुंचे. दो मकसद लेकर वो पहुंचे थे. एक तो उन्हें राजद्रोह मामले में जमानत के नियम के तौर पर हर सोमवार क्राइम ब्रांच में हाजरी लगाना अनिवार्य है, सो वो हाजरी लगाने भी पहुंचे थे. साथ ही कुछ दिन पहले अहमदाबाद के वस्त्राल इलाके के भाजपा पार्षद परेश पटेल ने हार्दिक पटेल समेत कुछ पटेल युवाओं पर आरोप लगाया था कि उन्होंने उनके घर पर देर रात हमला किया, उन्हें जान से मारने की धमकी दी और साथ में काफी अभद्र भाषा का प्रयोग भी किया.

उन्होंने स्थानीय पुलिस में इसे लेकर एक एफआईआर भी दर्ज कराई थी. इस मामले में पुलिस ने हार्दिक के साथ के अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर जमानत पर छोड़ भी दिया था. हालांकि हार्दिक पटेल की अब तक इस मामले में गिरफ्तारी नहीं हुई है. हार्दिक ने कहा कि वो इस मामले में समर्पण भी करने आए हैं. लेकिन फिर भी पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार नहीं किया.

क्राइम ब्रांच की एसओजी के एसीपी बीसी सोलंकी ने बताया कि हार्दिक पटेल के खिलाफ अहमदाबाद के रामोल पुलिस स्टेशन में दंगा करने का मामला दर्ज है. हार्दिक पटेल समर्पण करने आए थे लेकिन उस मामले के जांच अधिकारी किसी अन्य जांच में व्यस्त हैं और शहर से बाहर तफ्तीश के लिए गए हैं. इसलिए उन्हें फिलहाल गिरफ्तार नहीं किया गया है. जांच अधिकारी के वापस लौटने पर उनसे पूछताछ करके उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा.

लेकिन हार्दिक पटेल ने आरोप लगाया कि बुधवार को भाजपा के राष्ट्रीय प्रमुख अमित शाह अहमदाबाद आ रहे हैं तो उससे पहले उन्हें गिरफ्तार करने की ये भाजपा की चाल है. हालांकि उन्होंने कहा कि वो अहिंसक आंदोलन चला रहे हैं लेकिन फिर भी उन्हें परेशान किया जा रहा है. जब उनके लोग कोई एफआईआर करते हैं तो किसी कि गिरफ्तारी नहीं होती लेकिन जब भाजपा के लोग आंदोलनकारीयों के खिलाफ पुलिस में शिकायत करते हैं तो तुरंत कार्रवाई की जाती है.

साथ में उन्होंने ये भी कहा कि ये बात अब स्पष्ट हो गई है कि राज्य में चुनाव नजदीक हैं, इस वजह से आंदोलन से जुडे लोगों पर गलत केस लगाकर उनको या जेल में डाल देना या मुकद्दमे लगा देना तीन चार दिन के लिए जेल में रखकर जमानत देना जैसी कार्रवाई की जा रही है ताकि उन्हें परेशान करके उलझाये रखा जा सके. महत्वपूर्ण बात यह है कि गुजरात में उत्तर प्रदेश में भाजपा की जीत के चलते जल्द चुनावों की संभावना जताई जा रही है. ऐसे में पाटीदार आंदोलन दोबारा से गर्मा रहा है. इसका चुनावों की तैयारी पर कोई असर पड़ता है या नहीं, ये तो वक्त आने पर ही पता चल पाएगा.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

जीएसटी के चार सहायक विधेयक संसद में पेश - GST supporting bills presented in parliament



नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने देश के सबसे बड़े आर्थिक सुधार कहे जा रहे गुड्स एंड सर्विसेज़ टैक्स, यानी जीएसटी को 1 जुलाई से लागू कर देने की अपनी डेडलाइन को हासिल कर लेने के उद्देश्य से सोमवार को चार सहायक विधेयक संसद में पेश कर दिए हैं. नए कानूनों तथा मौजूदा कानूनों में बदलाव से जुड़े या चार बिल संसद के निचले सदन, यानी लोकसभा में पेश कर दिए गए हैं, और इन पर मंगलवार को चर्चा करवाई जाएगी. सरकार चाहती है कि सदन में ये बिल ज़्यादा से ज़्यादा गुरुवार तक पारित हो जाएं, और फिर इन्हें राज्यसभा में पेश किया जाएगा.

इन चार बिलों - सेंट्रल जीएसटी, इन्टीग्रेटेड जीएसटी, यूनियन टेरिटरीज़ जीएसटी तथा मुआवज़ा कानून - को केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इसी महीने मंज़ूरी दी थी. इन बिलों को संसद से मंज़ूरी मिल जाने के बाद राज्य जीएसटी बिल राज्य विधानसभाओं में पेश किए जाएंगे. कैबिनेट की मंज़ूरी से पहले वित्तमंत्री की अध्यक्षता वाली और राज्यों के वित्तमंत्रियों की सदस्यता वाली शक्तिशाली जीएसटी काउंसिल ने पांच कानूनों को मंज़ूरी दे दी थी, जिससे राज्यों तथा केंद्र के बीच मौजूद मतभेद दूर हो गए थे, और कई अप्रत्यक्ष करों के बदले लागू होने वाले राष्ट्रीय कर को लागू करने का रास्ता तैयार हो गया था.

बीजेपी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार इन बिलों को जल्द से जल्द लोकसभा से पारित करवा लेना चाहती है, ताकि उन्हें राज्यसभा में बिलों को ले जाने तथा वहां से मिले सुझावों को फिर लोकसभा में पेश करने के लिए पर्याप्त समय मिल सके.ये सभी धन-संबंधी विधेयक हैं, जिसका अर्थ यह होता है कि उच्च सदन के सुझाव लोकसभा के लिए बाध्यकारी नहीं हैं. लोकसभा उन्हें मंज़ूर भी कर सकती है, और खारिज भी. हालांकि सरकार इस मुद्दे पर राज्यसभा में व्यापक बहस करवाना चाहती है, ताकि विपक्ष को यह आलोचना करने का मौका नहीं मिले कि सरकार जानबूझकर उच्च सदन की अनदेखी कर रही है, क्योंकि वहां सरकार अल्पमत में है.

यह सब कवायद 12 अप्रैल से पहले निपट जानी चाहिए, क्योंकि फिर संसद का बजट सत्र खत्म हो जाएगा. जीएसटी इससे पहले भी 1 अप्रैल की एक डेडलाइन पर लागू नहीं हो पाया था.जीएसटी के तहत चार - 5, 12, 18 व 28 प्रतिशत - टैक्स स्लैब होंगी, तथा इसके अलावा पहले पांच साल तक कारों, शीतय पेयों तथा तंबाकू उत्पादों जैसी सामग्रियों पर कुछ अन्य कर भी लगाए जाएंगे, ताकि राज्यों के नुकसान की भरपाई की जा सके.
मुआवज़ा कानून इस लिहाज़ से तैयार किया गया है, ताकि जीएसटी के लागू होने पर राज्यों के राजस्व नुकसान की भरपाई के लिए केंद्र सरकार द्वारा किए गए वादे को संवैधानिक जामा पहनाया जा सके.

चूंकि जीएसटी के आने से केंद्र तथा राज्य सरकारों द्वारा लगाए जाने वाले बहुत-से अप्रत्यक्ष कर इसी में समाहित हो जाएंगे, इसलिए केंद्रीय जीएसटी (सीजीएसटी) तथा राज्य जीएसटी (एसजीएसटी) में बताया गया है कि नई टैक्स प्रणाली में राज्यों तथा केंद्र के बीच राजस्व का बंटवारा किए तरह किया जाएगा. एसजीएसटी में राज्यवार दी गई छूट का भी ज़िक्र किया गया है.इन्टीग्रेटेड जीएसटी उत्पादों तथा सेवाओं के अंतर-राज्यीय आवगमन पर लगने वाले टैक्स के बारे में स्थिति स्पष्ट करेगा. यूनियन टेरिटरी जीएसटी में केंद्रशासित प्रदेशों में कराधान को स्पष्ट किया जाएगा.

आज़ादी के बाद से अब तक के सबसे बड़े कर सुधार से आर्थिक वृद्धि में आधा फीसदी की बढ़ोतरी की उम्मीद की जा रही है, तथा माना जा रहा है कि इससे राजस्व का दायरा बढ़ जाएगा, व कंपनियों की लागत कुछ कम होगी.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

ऑस्ट्रेलियाई टीम 137 रन पर ही सिमट गई, टीम इंडिया 19 /0 - india vs australia 4th test day 3 dharamshala



धर्मशाला: बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी पर कब्जे को लेकर भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच धर्मशाला में खेले जा रहे चार मैचों की सीरीज के तीसरे मैच में टीम इंडिया ने पकड़ काफी मजबूत कर ली है. पहले दो दिन दोनों टीमों के बीच जोरदार संघर्ष देखने को मिला, लेकिन तीसरे दिन के खेल में टीम इंडिया पूरी तरह हावी नजर आ रही है. ऐसा ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा के करिश्माई प्रदर्शन के कारण संभव हुआ है. जडेजा ने 63 रन बनाने के बाद गेंद से भी धमाकेदार प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलिया को बैकफुट पर धकेल दिया. इसमें तेज गेंदबाज उमेश यादव और रविचंद्रन अश्विन का भी अहम योगदान रहा. दूसरी पारी में पूरी ऑस्ट्रेलियाई टीम 137 रन पर ही सिमट गई. रवींद्र जेडजा, आर अश्विन और उमेश यादव ने तीन-तीन विकेट, तो भुवनेश्वर ने एक विकेट लिया है. टीम इंडिया को यह मैच जीतकर सीरीज पर कब्जा करने के लिए 106 रन की जरूरत है. टीम इंडिया ने 19 रन बना लिए हैं. मुरली विजय (6) और लोकेश राहुल (13) क्रीज पर हैं.

ग्लेन मैक्सवेल के अलावा कोई भी कंगारू बल्लेबाज टिक नहीं पाया. पहली पारी में भारत से 32 रन से पिछड़ने के बाद दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी लड़खड़ा गई. ग्लेन मैक्सवेल ने सर्वाधिक 45 रन बनाए, जिसमें 6 चौके और एक छक्का जड़ा. मैथ्यू वेड 25 रन पर नाबाद रहे. अन्य कोई भी बल्लेबाज टिक कर नहीं खेल पाया. 6 बल्लेबाज दहाई अंक तक भी नहीं पहुंचे. उमेश यादव ने डेविड वॉर्नर को 6 रन पर कीपर साहा के हाथों कैच कराकर भारत को पहली सफलता दिलाई, फिर भुवनेश्वर कुमार ने पहली पारी के शतकवीर स्टीव स्मिथ को बोल्ड कर दिया. इसके बाद उमेश ने मैट रेनशॉ को पैवेलियन की राह दिखाकर ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी को जोरदार झटका दिया. आज लंच से ठीक पहले ऑस्ट्रेलिया के पहली पारी के 300 रनों के जवाब में टीम इंडिया की पहली पारी 332 रनों पर सिमट गई. इस प्रकार टीम इंडिया को पहली पारी में 32 रनों की बढ़त मिली थी.


सुबह के सत्र तक टीम इंडिया पर हावी दिख रही ऑस्ट्रेलियाई टीम चायकाल तक बिखर गई और दूसरी पारी में उसकी बल्लेबाजी चरमरा गई. चाय से 92 रन पर पांच विकेट गंवा चुकी कंगारू टीम के लिए चाय के बाद ग्लेन मैक्सवेल ने मैथ्यू वेड के साथ 14 रन ही जोड़े थे कि उनको अंपायर ने आर अश्विन की गेंद पर पगबाधा करार दिया. वास्तव में उन्होंने भीतर की ओर आ रही गेंद पर कोई शॉट ऑफर नहीं किया और विकेटों के सामने पकड़े गए. उन्होंने डीआरएस लिया, लेकिन 'अंपायर्स कॉल' हो गई. मैक्सवेल ने 45 रनों की पारी खेली जिसमें 6 चौके और एक छक्का लगाया. स्कोर में 15 रन और जुड़े थे कि जडेजा ने पैट कमिन्स को 12 रन पर रहाणे के हाथों कैच कराते हुए सातवां विकेट चटका दिया. 121 रन पर ही जडेजा ने आठवां झटका भी दे दिया. उमेश यादव ने नैथन लियोन के रूप में नौवां विकेट झटका. अंतिम विकेट अश्विन ने लिया और हेजलवुड को अपना तीसरा शिकार बनाया.



news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

भीड़ को काबू करने के लिए पैलेट गन के बजाय किसी अन्य प्रभावी माध्यम पर गौर करे केंद्र : सुप्रीम कोर्ट - Centre has think about option of pellet guns: SC



जम्मू-कश्मीर में गुस्साई भीड़ को काबू करने के लिए सुरक्षाबलों द्वारा उपयोग में लाई जा रही पैलेट गन पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र ने कहा कि वह भीड़ को काबू करने के लिए पैलेट गन के बजाय किसी अन्य प्रभावी माध्यम पर गौर करे क्योंकि यहां बात जिंदगी और मौत से जुड़ी है. हालांकि केंद्र सरकार ने पैलेट गन के उपयोग का बचाव करते हुए कहा कि देश की संप्रभुता और अखंडता दांव पर है.

सुप्रीम कोर्ट ने पैलेट गन के उपयोग को लेकर केंद्र सरकार से जवाब मांगा है. कोर्ट ने पूछा है कि क्या किसी वैकल्पिक विधि का उपयोग कर जा दोनों पक्षों को लगने वाली चोटें कम की जा सकती हैं? केंद्र ने कहा है कि वो इसके प्रभाव और भीड़ से निपटने के लिए किसी अन्य वैकल्पिक विधि को लेकर न्यायालय को सूचित करेगा. केंद्र ने कहा कि ये आसान मामला नहीं है. ये सुरक्षा से जुड़ा मसला है. मामले की अगली सुनवाई 10 अप्रैल को होगी.

चीफ जस्टिस ने कहा कि क्या पैलेट गन से सबसे ज्यादा बच्चे पीड़ित हैं? अगर बच्चे प्रदर्शनों में शामिल हो रहे हैं, तो क्या आपने उनके माता-पिता के खिलाफ कार्रवाई की है?

कोर्ट ने कहा कि सभी को शांतिपूर्ण तरीके से विरोध करने का अधिकार है. अटॉर्नी जनरल ने कहा कि पैलेट गन के इस्तेमाल से पहले एक उचित मानक प्रोटोकॉल का पालन किया जाता है. मजिस्ट्रेट इसके उपयोग का निर्देश देता है. देश की अखंडता और संप्रभुता दांव पर है. पैलेट गन अंतिम उपाय है. भीड़ पत्थर और तेज धार वाली वस्तुओं का उपयोग करती है. हिंसा में लगभग 3777 सुरक्षा कर्मियों भी घायल हुए हैं.

सुरक्षाबलों क्या करना चाहिए? यह शांतिपूर्ण स्थिति नहीं है, राष्ट्रवादी भी मारे गए हैं. जुलाई 8, 2016 से 32 दिनों में सीआरपीएफ पर करीब 252 हमलों हुए.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

पूर्व मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट गोमती रिवर फ्रंट का जायजा लेने पहुंचे मुख्यमंत्री - cm inspects work progress of gomti river front



लखनऊ: यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ आज पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट गोमती रिवर फ्रंट का जायजा लेने पहुंचे. अखिलेश यादव ने विदेश की तमाम नदियों की तर्ज पर गोमती के 14 किलोमीटर तक के एरिया के लिए यह योजना शुरू की थी. इसका एक हिस्सा बनकर तैयार हो गया है. योगी आदित्यनाथ ने रिवर फ्रंट से जुड़े अफसरों के साथ मीटिंग की. उन्होंने कहा कि रिवर फ्रंट की लागत बहुत ज्यादा लग रही है. इसे कम किया जाए. इसे बनाने में इतना समय क्यों लग रहा है इसका जवाब एक हफ्ते में दिया जाए.  योगी ने निर्देश जारी किए कि इसमें गैर-जरूरी चीजों को न बनाया जाए और इसकी लागत कम की जाए. गोमती नदी के पानी से बदबू आ रही है. इसमें जो नाले गिर रहे हैं उन्हें बंद करने के इंतजाम किए जाएं.

गोमती रिवर फ्रंट के तहत रिवर को पक्की डायफॉर्म वॉल बनाकर चैनेलाइज किया गया है और इसके दोनों किनारों पर लैंडस्केपिंग करके गार्डन बनाया गया है, जिसमें वॉकिंग प्लाजा, जॉगिंग ट्रैक और साइकिल ट्रैक वगैरह बनाए गए हैं. मॉर्डन शौचालयों की भी यहां सुविधा है. इसके अलावा म्यूजिकल फाउंटेन और लेजर लाइट के इंतजाम भी यहां हैं.  गोमती में नौकायन सबसे बड़ा आकर्षण है. जॉगिंग ट्रैक ऐसे विशेष मैटीरियल से बनाए गए हैं ताकि जॉगिंग में सहूलियत रहे. इसके किनारे पार्किंग बनी हुई.सिक्योरिटी के विशेष इंतजाम किए गए हैं.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

1 अप्रैल से नए वित्त वर्ष के साथ ही बदल जायेंगे इनकम टैक्स से जुड़े कुछ खास नियम - Some rules of income tax that will change from april



नई दिल्ली: पिछले बुधवार को लोकसभा ने वित्त विधेयक पास कर दिया. इसी के साथ ही बजट संबंधी सत्र 2017-18 की प्रक्रिया पूरी हो गई. चूंकि वित्त विधेयक, धन-संबंधी विधेयक होता है, इसलिए इसे सिर्फ लोकसभा द्वारा पास किया जाना ज़रूरी होता है, और राज्यसभा से पारित करवाने की आवश्यकता नहीं होती. 1 अप्रैल से शुरू हो रहे नए वित्त वर्ष के साथ ही इनकम टैक्स से जुड़े कुछ खास नियमों में बदलाव हो जाएगा. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बजट 2017 में इनकम टैक्स में कई बदलावों की भी घोषणा की थी. वित्त विधेयक में कुछ बदलावों को लोकसभा ने अपनी मंजूरी दे दी है. ऐसे में आप भी जान लीजिए कि नए वित्त वर्ष यानी 1 अप्रैल से क्या कुछ बदलने वाला है:  

  • ढाई लाख से 5 लाख रुपये के बीच की इनकम वालों का टैक्स 10 फीसद से घटाकर 5 फीसदी कर दिया जाएगा. हालांकि, सेक्शन 87ए के तहत मिलने वाली 5000 रुपये की छूट को घटाकर 2500 रुपये कर दी गई है. इतना ही नहीं, जिन आयकरदाताओं की आय 3.5 लाख रुपये से ऊपर है उनके लिए कोई छूट नहीं है. इसका मतलब यह होगा कि 3 से 5 लाख रुपए की करयोग्य आय वालों को 7,700 रुपए की बचत होगी, जबकि 5 से 50 लाख रुपए टैक्‍सेबल इनकम वालों को 12,900 रुपए की बचत होगी.
  • 50 लाख से लेकर एक करोड़ रुपए तक की वार्षिक आय वाले लोगों को 10 प्रतिशत सरचार्ज देना होगा. (वहीं एक करोड़ रुपए सालाना इनकम वाले लोगों को पहले की ही तरह 15 प्रतिशत सरचार्ज देना होगा.)
  • पांच लाख रुपए की सालाना आय (व्यावसायिक इनकम के अलावा) वाले व्‍यक्तिगत करदाताओं के लिए सुविधा के लिए टैक्‍स रिटर्न फाइल करने के लिए एक पेज का फॉर्म पेश किया जाएगा.
  • राजीव गांधी इक्विटी सेविंग स्‍कीम में निवेश पर आकलन वर्ष 2018-19 के लिए किसी भी प्रकार का कर लाभ नहीं मिलेगा. इस टैक्‍स सेविंग स्‍कीम की घोषणा वित्‍त वर्ष 2012-13 में की गई थी. यह योजना प्रतिभूति बाजार में पहली बार निवेश करने वाले निवेशकों को प्रोत्‍साहित करने के लिए शुरू की गई थी.
  • यदि सर्च ऑपरेशन के दौरान 50 लाख रुपए से अधिक की अघोषित आय या संपत्ति का पता चलता है तो आयकर अधिकारी पिछले 10 साल के कर मामलों को दोबारा खोल सकते हैं. वर्तमान में कर अधिकारियों को पिछले छह साल के दस्‍तावेजों की ही छानबीन करने का अधिकार हासिल है. समय पर अपना रिटर्न फाइल नहीं करने वाले करदाताओं को आकलन वर्ष 2018-19 के लिए 10,000 रुपए तक का जुर्माना देना पड़ सकता है. हालांकि, यदि किसी व्‍यक्ति की कुल आय 5 लाख रुपए से अधिक नहीं है, तो इस धारा के तहत उस पर अधिक‍तम जुर्माने की राशि 1,000 रुपए से अधिक नहीं होगी.
  • लांग टर्म गेन के लिए किसी संपत्ति के होल्डिंग पीरियड को 3 साल से घटाकर अब 2 साल कर दिया गया है. यदि कोई व्‍यक्ति संपत्ति खरीदकर उसे 2 साल के भीतर ही बेच देता है तो उसे इस पर होने वाले लाभ पर शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन टैक्‍स देना होगा. यदि इस संपत्ति की बिक्री खरीदने की तारीख से दो साल बाद की जाती है तो उस पर कोई टैक्‍स देय नहीं होगा
  • सरकार ने किराये पर घर देने वालों के कर लाभ में कटौती कर दी है. मौजूदा कर कानून के मुताबिक किराये पर दी गई संपत्ति के लिए करदाता रेंटल इनकम को समायोजित करने के बाद होम लोन पर चुकाए जाने वाले संपूर्ण ब्‍याज पर टैक्‍स कटौती का लाभ ले सकता है. अब नए नियम के मुताबिक खुद के रहने वाले मकान के लिए होम लोन पर ब्‍याज के भुगतान में 2 लाख रुपए पर टैक्‍स कटौती का लाभ मिलेगा लेकिन रेंट पर दी गई प्रॉपर्टी के लिए करदाता रेंटल इनकम एडजस्‍ट करने के बाद प्रतिवर्ष केवल 2 लाख रुपए पर ही टैक्‍स लाभ हासिल कर सकेगा. दो लाख रुपए से अधिक की राशि को अगले आठ असेसमेंट वर्षों तक आगे ले जाया जा सकेगा.
  • प्रतिमाह 50,000 रुपए से अधिक के किराये का भुगतान करने वाले व्‍यक्ति को अब 5 प्रतिशत टीडीएस (स्रोत कर कर) काटना होगा. कर विशेषज्ञों का मानना है कि इस कदम से ऐसे व्‍यक्ति जिनकी रेंटल इनकम बहुत अधिक है, वो कर के दायरे में आ जाएंगे. यह नियम एक जून 2017 से प्रभावी होगा
  • नेशनल पेंशन सिस्‍टम (एनपीएस) से आंशिक निकासी/आहरण पर कोई टैक्‍स नहीं लगेगा. प्रस्‍तावित बदलावों के अनुसार, एनपीएस सब्‍सक्राइबर्स अपने अंशदान का 25 प्रतिशत हिस्‍सा रिटायरमेंट से पहले आपातकालीन स्थिति में निकाल सकेंगे. यह याद रखें कि रिटायरमेंट पर कुल फंड का 40 प्रतिशत हिस्‍सा ही कर मुक्त होता है.
  • एक जुलाई से पैन कार्ड बनवाने और इनकम टैक्‍स दाखिल करने के लिए आधार नंबर अनिवार्य होगा. सरकार ने कालेधन की रोकथाम के लिए नकद लेनदेन की सीमा भी 3 से घटाकर अब 2 लाख रुपए कर दी गई है. यदि कोई व्‍यक्ति दो लाख रुपए से अधिक का लेनदेन करते पाया जाता है तो उसे इस सीमा से अधिक राशि पर 100 प्रतिशत जुर्माना देना होगा.

प्रभास को सलमान खान से भी बड़ा स्टार बताया प्रोडक्शन डिजाइनर साबू सेरिल ने - Prabhas is big star: Sabu



'बाहुबली' की सफलता के साथ प्रभास क्या स्टारडम में सलमान खान को पीछे छोड़ चुके हैं. 'बाहुबली 2' से जुड़े एक हालिया इवेंट में कुछ इस तरह का बयान सामने आया है. और कोई कहता तो सवाल इतना बड़ा न होता. लेकिन ऐसा खुद 'बाहुबली' की टीम का मानना है.

'बाहुबली' के बारे में बात करते हुए फिल्म के डायरेक्टर ऑफ फोटोग्राफी सेंथिल कुमार ने कहा- सभी 'बाहुबली' के डायरेक्टर राजामौली को भारत का जेम्स कैमरून कहते हैं. जबकि मेरा मानना है कि राजामौली का टैलेंट कहीं बेहतर है और जेम्स कैमरून को हॉलीवुड का राजामौली कहना चाहिए.

वहीं फिल्म के नेशनल अवॉर्ड जीत चुके 'बाहुबली' के प्रोडक्शन डिजाइनर साबू सेरिल का कहना है कि वह इस फिल्म के साथ जुड़ फख्र महसूस कर रहे हैं. साथ ही उन्होंने प्रभास को सलमान खान से भी बड़ा स्टार बताया.

साबू ने कहा - मैंने 'बाहुबली' की शूटिंग के दौरान प्रभास का क्रेज देखा है. जितने लोग यहां मौजूद हैं, उनको देखने के लिए सेट पर इससे भी 100 गुना भीड़ होती थी. तब मैंने अपनी पत्नी को बताया था कि मैंने इतने सुपरस्टार्स के साथ काम किया है लेकिन इतना क्रेज किसी का नहीं देखा.

बता दें कि साबू अब तक सलमान खान, अक्षय कुमार, शाहरुख खान, अमिताभ बच्चन, अजय देवगन, कमल हासन जैसे सितारों के साथ कई फिल्में कर चुके हैं. ऐसे में प्रभास के स्टारडम को लेकर उनका यह बयान वाकई गौर करने लायक है!


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

पहली पारी में 332 रनों पर सिमट गई टीम इंडिया - ind vs aus day three dharamsala



ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धर्मशाला टेस्ट में भारत को पहली पारी के आधार पर 32 रनों की बेशकीमती बढ़त मिली है. तीसरे दिन 248/6 रन से आगे खेलते हुए भारत की पूरी टीम 332 रनों पर सिमट गई. रवींद्र जेडजा (63 रन) न सिर्फ भारत के टॉप स्कोरर रहे, बल्कि ऋद्धिमान साहा के साथ सातवें विकेट के लिए बहुमूल्य 96 रनों की साझेदारी की. ऑस्ट्रेलिया की ओर से नाथन लियोन अपनी फिरकी के जरिए 5 विकेट झटके. जबकि पैट कमिंस के हिस्से तीन विकेट आए. ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में 300 रन बनाए थे. लंच के बाद ऑस्ट्रेलिया ने अपनी दूसरी पारी शुरू की है. फिलहाल उसका स्कोर 9 रन है.


दिन की पहली ही गेंद पर रवींद्र जडेजा ने रिव्यू लिया, जो सही रहा. बल्ले और गेंद में कोई संपर्क नहीं हुआ था. पैट किमिंस के इसी ओवर के तीसरे गेंद पर एलबीडब्ल्यू की अपील हुई. पहला ओवर बिना किसी नुकसान के निकला. भारत को दिन का पहला झटका 317 रन पर लगा, जब रवींद्र जडेजा (63 रन) को कमिंस ने बोल्ड किया. जडेजा ने टेस्ट करियर का सातवां अर्धशतक जमाया. 318 के स्कोर पर भुवनेश्वर कुमार को शून्य पर स्टीव ओकीफे ने अपना शिकार बनाया. उसी स्कोर पर साहा (31 रन) को कमिंस ने आउट किया. दोनों कैच स्मिथ ने लपके. आखिरी झटका लियोन ने दिया, जब 332 रन के स्कोर कुलदीप यादव (7 रन) कमिंस को कैच दे बैठे.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

Videos

News by Topic...

Politics (1159) States (1096) India (650) international (548) sports (415) Controversy (389) entertainment (349) economy (142) articles (120) religion (69) Social (50) career (37) mithilesh2020 (36) hindi news (29) top5 (23) narendra modi (9) images (8) others (8) Stories (2)

Follow by Email

News Archive

Contact Form

Name

Email *

Message *

Translate

WEBSITE BY...


क्या आप भी न्यूज, व्यूज या अन्य पोर्टल बनवाने के इच्छुक हैं? फोन करें

 मिथिलेश को: 99900 89080