Latest News

TOP5 (5 पंक्तियों में ...)
Social (सामाजिक)

Controversy

technology

International

Sports

Recent Posts

Sunday, 26 February 2017

कांग्रेस के फिसड्डी प्रदर्शन पर पार्टी के नेताओं में कानाफूसी शुरू - Start breathe in Congress part after laggard performance



नई दिल्ली: चुनाव में जीत और हार लगी रहती है. लेकिन जीत का श्रेय लेने के लिए सभी दावा करते हैं और चुनाव में हार की ठीकरा फोड़ने के लिए सिर की तलाश की जाती रही है. भारतीय राजनीति में सबसे पुराने राजनीतिक दल कांग्रेस पार्टी पिछले कुछ सालों से देश की राजनीति में रसातल की ओर जा रही है. ऐसे में सोनिया गांधी ने पार्टी को कुछ संभाला लेकिन जब से उन्होंने पार्टी की गतिविधियों से कुछ दूरी बनाई तब से पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी की कमान संभाली है.

महाराष्ट्र और ओडिशा में हुए स्थानीय निकाय चुनावों में बीजेपी के बेहतर प्रदर्शन और कांग्रेस के फिसड्डी प्रदर्शन पर पार्टी के नेताओं में कानाफूसी शुरू हो गई है. जहां पार्टी इसे आंतरिक लड़ाई बता रही है और पार्टी की वित्तीय खस्ताहाल को जिम्मेदार बता रही है वहीं, पार्टी के वरिष्ठ नेता इन हार की वजह को पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी की क्षमताओं में कमी को मान रहे हैं.

यह अलग बात है कि सभी के सभी कानाफूसी ही कर रहे हैं और सभी को पांच राज्यों में हो रहे चुनावों के परिणाम का इंतजार है. एक वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ने कहा, सबसे बड़ा सवाल तो यह है कि बिल्ली के गले में घंटी कौन बांधेगा.

कई पार्टी नेताओं का मानना है कि 2014 में पार्टी की करारी हार के बाद राहुल गांधी ने पार्टी की कमान अपने हाथ में ले ली थी और पूरे देश में पार्टी में बदलाव का प्रयास किया और पूरे देश में प्रचार भी किया. लेकिन अभी तक के परिणाम पार्टी के लिए उत्साहवर्धक तो नहीं दिखाई दे रहे हैं. पार्टी एक के बाद एक राज्य में हारती जा रही है और देखा जाए तो धीरे धीरे पार्टी साफ होती जा रही है.

पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की चिंता यहीं नहीं समाप्त होती है. सभी को यह भी दिक्कत है कि पार्टी के पास अभी तक नरेंद्र मोदी सरकार से टक्कर लेने के लिए कोई गेमप्लान नहीं है न ही कोई रणनीति है. पार्टी नेताओं ने नाम न लेने की शर्त पर तो यहां तक कहा कि राहुल गांधी के हमले अभी तक कारगर सिद्ध नहीं हुए हैं और महाराष्ट्र और ओडिशा में बीजेपी को मिली जीत का असर यूपी के बाकी बचे चरणों में मतदान पर भी देखने को मिलेगा.

इन नेताओं का कहना है कि पार्टी में काफी दिनों से चले बदलाव से भी ज्यादा कुछ होने की उम्मीद नहीं दिखती है क्योंकि राहुल गांधी के नेतृत्व में जवाबदेही और परफॉरमेंस कभी भी पैमाना नहीं रहा है. यह मांग एक बार फिर जोर पकड़ेगी कि क्या राहुल गांधी पार्टी के अध्यक्ष पद का कार्यभार संभालेंगे और उनकी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा और ज्यादा सक्रिय भूमिका निभाएंगी या नहीं.

कुछ भी हो, 11 मार्च को चुनाव परिणामों की घोषणा के साथ ही अगर कुछ बदलाव नहीं हुआ तो सवाल कांग्रेस नेतृत्व पर तो उठेगा ही. यह सवाल कांग्रेस पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी की क्षमताओं पर भी उठाए जाएंगे.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

सेना की भर्ती परीक्षा से पहले ही पेपर लीक, कई शहरों में छापेमारी, मचा हड़कंप - Army recruitment exam paper leaked



महाराष्ट्र में रविवार को होने वाली सेना की भर्ती परीक्षा का पेपर लीक हो गया. पेपर लीक होने के बाद पुणे जोन में परीक्षा को रद्द कर दिया गया है. पुणे, नागपुर और गोवा समेत कई शहरों में छापेमारी के बाद अभी तक कुल 18 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. वहीं 350 छात्रों को भी हिरासत में लिया गया है. मामले की जांच जारी है.

महाराष्ट्र में रविवार को सेना की भर्ती परीक्षा आयोजित की गई है. सेना की भर्ती परीक्षा से पहले ही पेपर लीक होने की खबर से हड़कंप मच गया. ठाणे पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने फौरन हरकत में आते हुए अलग-अलग शहरों से 18 लोगों को गिरफ्तार कर लिया. वहीं जांच टीम ने इस मामले में 350 छात्रों को भी पकड़ा है.

पेपर लीक होने के बाद पुणे जोन में परीक्षा को रद्द कर दिया गया है. गोवा पुलिस भी इस पेपर लीक मामले की जांच कर रही है. पूरे भारत से अभ्यर्थी इस परीक्षा में शामिल होने के लिए पहुंचे थे. पुलिस सूत्रों की मानें तो लीक किया गया पेपर हर युवक को दो लाख रुपये में बेचा गया था.


दरअसल शनिवार देर रात पेपर लीक की खबर मिलते ही नागपुर, पुणे, नासिक और गोवा में पुलिस ने छापेमारी की थी. गिरफ्त में आए अभ्यर्थियों को एक लॉज में लीक पेपर की आंसर शीट भरते हुए पाया गया. पुलिस ने आशंका जताई कि इस केस में आर्मी के कुछ लोगों का भी हाथ हो सकता है.


बताते चलें कि सेना में टेक्निकल टेस्ट, सेंट्रल ड्यूटी, क्राफ्टमैनशिप आदि पदों के लिए यह भर्ती परीक्षा आयोजित की गई थी. ठाणे के डीसीपी पराग मनेरे ने बताया कि पेपर लीक की जानकारी मिलते ही पुलिस ने सैन्य अधिकारियों को इसकी सूचना दी. जिसके बाद रेड में पुलिस ने 18 लोगों को गिरफ्तार किया.


साथ ही 350 छात्रों को भी हिरासत में लिया गया है. डीसीपी पराग मनेरे ने कहा कि सभी आरोपियों से पूछताछ जारी है और जल्द ही इस रैकेट में शामिल कई और लोगों को गिरफ्तार किया जाएगा.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

विजय हजारे ट्रॉफी में महेंद्र सिंह धोनी ने जमाया शतक - dhoni century in Hazare trophy



महेंद्र सिंह धोनी ने विजय हजारे ट्रॉफी में झारखंड की कप्तानी करते हुए शतक जमाया है. यह शतक रविवार को कोलकाता में उन्होंने छत्तीसगढ़ के खिलाफ लगाया है. उन्होंने 129 रन बनाए. 50 ओवर के मुकाबले में अपनी शतकीय पारी के दौरान उन्होंने 107 गेंदें खेलीं. जिसमें इनके 6 छक्के और 10 चौके शांमिल हैं.


झारखंड की तरफ से लिस्ट-ए क्रिकेट में यह उनका पहला शतक है. शनिवार को धोनी की कप्तानी वाली झारखंड टीम को ग्रुप डी मुकाबले में कर्नाटक से पांच रन से मात मिली थी. धोनी ने उस मैच में 43 रन बनाए थे. लिस्ट-ए क्रिकेट अंतरराष्ट्रीय वनडे और घरेलू 50 ओवर के मुकाबले शामिल होते हैं.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

ट्विन पिट टॉयलेट को साफ करने गटर में उतरा आईएएस अफसर : प्रधानमंत्री - IAS clean twin pit toilet: pm modi



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने 'मन की बात' कार्यक्रम में जब स्वच्छता के मुद्दे पर बात करते हुए ट्विन पिट टॉयलेट का जिक्र किया और बताया कि कैसे एक आईएएस अफसर खुद इसे प्रमोट करने के लिए गटर में उतरा और सफाई में जुटा तो सोशल मीडिया पर आईएएस परम लैयर की तस्वीर वायरल हो गई. इस तस्वीर में लैयर एक ट्विट पिट टॉयलेट की सफाई करते नजर आ रहे हैं. तस्वीर खुद लैयर ने 18 फरवरी को ट्वीट की थी और कहा था कि गंगादेवीपल्ली गांव में उन्होंने बताया कि कैसे ट्विट पिट टॉयलेट की सफाई करना सुरक्षित और स्वच्छ काम है.

गौरतलब है कि मन की बात में पीएम ने कहा कि 17-18 फरवरी को हैदराबाद में टॉयलेट पिट एंपटिंग एक्सरसाइज का आयोजन किया गया. इसमें छह घर के टॉयलेट पिट ख़ाली करके उनकी सफ़ाई की गई और अधिकारियों ने स्वयं ने दिखाया कि ट्विन पिट टॉयलेट के उपयोग हो चुके गड्ढों को, उसे ख़ाली कर पुनः प्रयोग में लाया जा सकता है. उन्होंने यह भी दिखाया कि यह नई तकनीक के शौचालय कितने सुविधाजनक हैं और इन्हें ख़ाली करने में सफ़ाई को लेकर कोई असुविधा महसूस नहीं होती है, कोई संकोच नहीं होता है, जो मानसिकता होती है, वो भी आड़े नहीं आती है और हम भी और सामान्य सफ़ाई करते हैं, वैसे ही एक टॉयलेट के गड्ढे साफ़ कर सकते हैं.

मोदी ने कहा कि इस प्रयास का परिणाम हुआ, देश के मीडिया ने इसको बहुत प्रचारित भी किया, उसको महत्व भी दिया. और स्वाभाविक है, जब एक IAS अफ़सर खुद टॉयलेट के गड्ढे की सफ़ाई करता हो, तो देश का ध्यान जाना बहुत स्वाभाविक है. और ये जो टॉयलेट पिट की सफ़ाई है और उसमें से जो जिसे आप-हम कूड़ा-कचरा मानते हैं, लेकिन खाद की दृष्टि से देखें, तो ये एक प्रकार से ये काला सोना होता है. वेस्ट से वैल्थ क्या होती है, ये हम देख सकते हैं, और ये सिद्ध हो चुका है.

मोदी ने बताया कि छह सदस्यीय परिवार के लिये एक सामान्य ट्विट पिट टॉयलेट लगभग पांच वर्ष में भर जाता है. इसके बाद कचरे को आसानी से दूर कर, दूसरे पिट में रिडायरेक्ट किया जा सकता है. छह-बारह महीनों में पिट में जमा कचरा पूरी तरह से डीकंपोज हो जाता है. ये कचरा हैंडल करने में बहुत ही सुरक्षित होता है और खाद की दृष्टि से अत्यंत महत्वपूर्ण खाद ‘NPK’. किसान भली-भांति ‘NPK’ से परिचित हैं, नाइट्रोजन, फास्फोरस, पोटेशियम - ये पोषक तत्वों से पूर्ण होता है; और यह कृषि क्षेत्र में बहुत ही उत्तम खाद माना जाता है.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

गुजरात पुलिस को दहशत के खिलाफ जंग में मिली अहम कामयाबी , 2 संदिग्धों को पकड़ा - Gujarat ats arrested two suspected isis terrorist



गुजरात पुलिस को दहशत के खिलाफ जंग में अहम कामयाबी मिली है. अहमदाबाद एटीएस ने रविवार को आतंकी संगठन आईएसआईएस के 2 संदिग्धों को पकड़ा है.

खबरों के मुताबिक, एक आरोपी को भावनगर और दूसरे को राजकोट से धरा गया. संदिग्ध आतंकियों के नाम वसीम और नईम रामोदिया बताए जा रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक, इनमें से एक क्रिकेट अंपायर आरिफ रामोदिया का बेटा और दूसरा भाई है. आरिफ हाल ही में सौराष्ट्र यूनिवर्सिटी से रिटायर हुए हैं. उनका परिवार राजकोट के नेहरूनगर इलाके में रहता है.

संदिग्धों के पास से देसी बम, गन पाउडर, मास्क, कंप्यूटर समेत काफी सामान जब्त किया गया है. उनके कंप्यूटर और मोबाइल फोन से प्रतिबंधित साहित्य सामग्री भी बरामद की गई है. एटीएस के उप-अधीक्षक के.के. पटेल ने बताया कि दोनों संदिग्ध पिछले डेढ़ साल से पुलिस के रडार पर थे. आरोप है कि दोनों ट्विटर, फेसबुक और टेलीग्राम नाम के मैसेजिंग एप के जरिए आईएसआईएस के संपर्क में थे.

पुलिस की मानें तो वसीम और नईम पश्चिमी देशों में हुए कई हमलों की तर्ज पर यहां भी 'लोन वुल्फ' हमलों को अंजाम देने की फिराक में थे. 'लोन वुल्फ' हमलों में अक्सर कोई बड़ा रैकेट नहीं होता. आतंकी इसे अपने स्तर पर ही अंजाम देते हैं. लिहाजा इन्हें रोकना ज्यादा कठिन होता है. माना जा रहा है कि दोनों संदिग्ध अगले कुछ दिनों में बम धमाके भी करने वाले थे.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

2 साल बाद पाकिस्तान ने दो भारतीय नागरिक स्वदेश भेजे - Pak returns 2 indian citizens



नई दिल्ली: भारत और पाकिस्तान में भले ही रिश्तों की बर्फ इतनी आसानी से ना पिघले, लेकिन सद्भभावना भरे कदम कशीदगी तो कम करते ही हैं. ऐसा ही एक कदम उठाते हुए पाकिस्तान ने शनिवार को दो भारतीय नागरिक स्वदेश भेजे. बदले में भारत भी उरी हमले के बाद गिरफ्तार दो संदिग्ध गाइड्स को जल्द रिहा कर सकता है.


शनिवार को एलओसी के चकोथी-उरी क्रॉसिंग प्वाइंट पर बिलाल अहमद (23) और अरफाज यूसुफ (24) ने करीब 2 साल बाद अपनी सरजमीं पर कदम रखा. अहमद कश्मीर के गुरेज गांव का रहने वाला है जबकि यूसुफ का घर कुपवाड़ा में है. यूसुफ ने साल 2014 और अहमद ने 2015 में गलती से नियंत्रण रेखा पार की थी. इसके बाद से दोनों पाकिस्तान में फंसे हुए थे. लेकिन सभी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद उन्हें भारत को सौंप दिया गया. पाकिस्तानी अधिकारियों ने उन्हें कपड़े, स्वेटर, बैग, जूते और मिठाइयां देकर विदा किया.

दूसरी ओर, एनआईए ने पाक अधिकृत कश्मीर के 2 संदिग्धों से जुड़े केस में क्लोजर रिपोर्ट दायर की है. फैसल हुसैन और ऐहसान खुर्शीद पर उरी हमले में शामिल आतंकियों को गाइड करने का आरोप था. लेकिन जांच में इस बात के कोई सबूत नहीं मिले हैं. दोनों को 21 सितंबर को एलओसी के पास पकड़ा गया था और अब उनकी वापसी की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. अगर अदालत क्लोजर रिपोर्ट को मान लेती है तो दोनों घर वापस लौट सकेंगे.

सबूत नहीं मिलने की वजह से एजेंसी ने दोनों के खिलाफ जांच रिपोर्ट बंद करने का फैसला लिया है. दोनों के खिलाफ भारतीय सेना को दिए गए बयान के अलावा कोई और पुख्ता सबूत नहीं मिल पाया. फैजल और अहसान, दोनों ही अब क्लोजर रिपोर्ट दाखिल होने के बाद वापस पाकिस्तान जा सकेंगे.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

लीबिया में अगवा हुए डॉ. राममूर्ति ISIS के चंगुल से छूटे , डॉक्टरी के पेशे ने बचाया जान - Indian doctor k ramamurthy free from isis



लीबिया में भारतीय डॉक्टर के. राममूर्ति को खूंखार आतंकी संगठन आईएसआईएस के चंगुल से छुड़वा लिया गया है. डॉक्टर राममूर्ति ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, एनएसए अजीत डोभाल और अन्य अधिकारियों के प्रति आभार जताते हुए कहा कि वह इसे कभी नहीं भूल सकते हैं.

आंध्र प्रदेश में कृष्णा जिले के रहने वाले डॉ. राममूर्ति ने अपनी आपबीती बताई कि आईएस आतंकी उन्हें जबरन ऑपरेशन थियेटर में ले जाते थे. ऑपरेशन थिएटर में उन्हें जबरदस्ती सर्जरी करने के लिए फोर्स किया जाता था. डॉ. राममूर्ति ने बताया कि उन्होंने ना तो कभी किसी आतंकी की सर्जरी की और ना ही कभी किसी को टांके लगाए.

डॉ. राममूर्ति ने बताया कि जब वह कैंप में काम कर रहे थे तो 10 दिनों के भीतर आईएस आतंकियों ने उन्हें हाथ और पैरों में तीन गोलियां मारी थीं. डॉ. राममूर्ति ने बताया कि 'रमजान के समय कुछ आईएस आतंकियों ने मुझसे मदद मांगी. मेरे इनकार करने पर वह जबरदस्ती मुझे उठाकर ले गए.'

उन्होंने आगे बताया, 'मुझे सबसे पहले सिरटे शहर की जेल ले जाया गया. इसके बाद वे पता नहीं क्यों मुझे एक अंडरग्राउंड जेल में ले गए. वहां मैं तुर्की के लोगों से और दो अन्य भारतीयों से मिला. वहां आईएस के लोगों ने मुझे इस्लाम और इसके नियमों के बारे में बताया. इसके बाद वहां लोगों ने नमाज पढ़नी सिखाई और वजू करना सिखाया. दो महीने तक यही सब चलता रहा.'


डॉ. राममूर्ति ने बताया आईएस आतंकियों ने कभी उनके साथ मारपीट नहीं की लेकिन वे लोग उन्हें खूब गालियां देते थे. कुछ आतंकी पढ़े-लिखे थे और भारत के बारे में अच्छी तरह से जानते हैं. डॉ. राममूर्ति ने आगे कहा कि आईएस लड़ाके उन्हें जबरन वो वीडियो दिखाते थे जो उन्होंने सीरिया , नाईजीरिया और अन्य देशों में किया था.

डॉ. राममूर्ति ने कहा, 'आईएस आतंकी सोचते थे कि मैं एक डॉक्टर हूं और एक न एक दिन जरूर उनके काम आ जाऊंगा. इसलिए उन्होंने मुझे जिंदा रखा. शायद इसलिए मैं बच भी गया.' गौरतलब है कि डॉ. राममूर्ति को करीब 18 महीने पहले लीबिया में आईएसआईएस आतंकियों ने अगवा कर लिया था.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

बीएमसी में मेयर पद के लिए तीन उम्मीदवार मैदान में होंगे - Three condidate in bmc for mayor



बृहन्मुंबई महानगर पालिका पर कब्जे के लिए सियासी घमासान जारी है. बीएमसी चुनावों में किसी एक पार्टी को बहुमत न मिलने के चलते अब उन रणनीतियों पर जोर है जो किसी भी तरह मेयर पद पर ताजपोशी करा सकें. शिवसेना इन चुनावों में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है. बीजेपी का साथ लेना उद्धव को फिलहाल मंजूर नहीं है और कांग्रेस ने उसे समर्थन देने से इनकार कर दिया है. सूत्रों के मुताबिक ऐसे में रणनीति ऐसी बनाई जा रही है कि एक-दूसरे का साथ न देकर भी कांग्रेस शिवसेना का मेयर बनवा दे.

सूत्र बताते हैं कि बीएमसी का जो जनादेश मिला है उसके मुताबिक कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और एनसीपी मेयर पद के लिए अपना खुद का संयुक्त कैंडिडेट खड़ा कर सकती हैं. ऐसे में मेयर पद के लिए तीन उम्मीदवार मैदान में होंगे. शिवसेना के पास 89 पार्षद हैं तो बीजेपी के पास 82 जबकि कांग्रेस के 31, सपा के 3 और एनसीपी के 7 व कुछ अन्य पार्षद अलग से अपने कैंडिडेट को वोट देंगे.

चूंकि मेयर का चुनाव साधारण बहुमत से होता है इसलिए एनसीपी और कांग्रेस के अलग कैंडिडेट खड़ा करने से शिवसेना के कैंडिडेट को ही सबसे ज्यादा वोट मिलेंगे और मेयर पद पर पार्टी का कब्जा हो जाएगा. अगले कुछ दिनों में शिवसेना ज्यादा से ज्यादा निर्दलीय पार्षदों को अपने खाते में लाने में जुटेगी.

शनिवार को उद्धव ठाकरे से अपने सभी पार्षदों को चेताया था कि वो बीजेपी के जाल में न फंसें और सचेत रहें. उद्धव ने मेयर पद की लड़ाई को प्रतिष्ठा की लड़ाई बना लिया है और वो खुद इस मुद्दे को देख रहे हैं.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

दिल्ली में होने वाले एमसीडी के चुनाव के लिए चिंतन में फंसा हुआ है कांग्रेस - Congress gears up to delhi local polls



नई दिल्ली: हाल में महाराष्ट्र के स्थानीय निकाय चुनावों में बीजेपी को मिली बड़ी सफलताओं और कांग्रेस पार्टी को मिली करारी हार के बीच और इससे पहले ओडिशा में पार्टी के बुरे प्रदर्शन के बाद अब पार्टी को दिल्ली में होने वाले एमसीडी के चुनाव के लिए चिंता सताने लगी है. जहां दिल्ली से राजनीति में धमाल मचाने वाली आम आदमी पार्टी ने इन सबके बीच अपने प्रत्याशियों की पहली सूची जारी कर अपने इरादे साफ कर दिए हैं वहीं कांग्रेस खेमा चिंतन में फंसा हुआ है.

यह बात और है कि स्थानीय स्तर पर अभी तक गैर-बीजेपी राज्य कहें जाने वाले राज्यों में भी बीजेपी की बढ़ती ताकत से सभी दल परेशान हैं. अब दिल्ली में स्थानीय निकाय के चुनाव होने और कांग्रेस पार्टी के लिए सबसे बड़ी समस्या यह है कि इस बार दिल्ली में जोरदार बहुमत से सरकार बनाने वाली आम आदमी पार्टी पहली बार चुनाव लड़ने जा रही है. पहले भी दिल्ली में कांग्रेस का सूपड़ा साफ करने में आम आदमी पार्टी ने अहम भूमिका निभाई थी. विधानसभा में पहली बार कांग्रेस पार्टी का एक भी प्रत्याशी नहीं पहुंचा और बीजेपी को केवल तीन सीटों से ही संतोष करना पड़ा था.

इस बार के चुनाव में आम आदमी पार्टी को सबसे बड़ा प्रतिद्वंद्वी माना जा रहा है और बीजेपी के लिए भी आप की बढ़ी ताकत सबसे बड़ी चुनौती है. राज्य में कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही एमसीडी चुनाव को काफी गंभीरता से ले रहे हैं और यह साफ है कि दिल्ली का चुनाव भी इस बार काफी दिलचस्प होने जा रहा है.

आम आदमी पार्टी की पहली सूची के बाद दिल्ली में बीजेपी और कांग्रेस भी टिकट बंटवारे को लेकर काफी सचेत हो गए हैं. कांग्रेस पार्टी के सूत्र बता रहे हैं कि पार्टी ने इस बार केवल बीजेपी को ही निशाने रखने का फैसला नहीं किया है बल्कि आम आदमी पार्टी पर भी उतने ही तीखे हमले होंगे. जानकारी के लिए बता दें कि दिल्ली के तीनों नगर निगमों में पिछले 10 सालों से बीजेपी का कब्जा है.

कांग्रेस पार्टी के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री अजय माकन इस संबंध में अपने करीबियों से विचार विमर्श कर रहे हैं. वैसे कांग्रेस नेतृत्व इस बात से थोड़ी राहत महसूस कर रहा है कि पिछले कुछ महीनों में अजय माकन ने प्रदेश संगठन को आप के खिलाफ मुख्य विरोधी के रूप में पेश करने की पूरी कोशिश की है. कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं का कहना है कि पार्टी उत्साहित है. इस बात का पता ऐसे पता चलता है कि इस बार करीब 12 हजार पार्टी कार्यकर्ताओं ने टिकट पाने के लिए आवेदन दिया है.

देश की राजनीति को देखकर यह साफ हो रहा है कि जहां जहां नई पार्टी आम आदमी पार्टी ने अपनी पैठ बनाई वहां पर कांग्रेस पार्टी को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है. पंजाब, गोवा और दिल्ली में यह साफ है.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

ऑस्‍कर पाने वाले पहले भारतीय एक्‍टर बन सकते हैं देव पटेल - Actor dev chances for oscar awards



इस बार का ऑस्‍कर पुरस्‍कार भारत के लिए कई मायनों में खास साबित होने जा रहा है. ऐसा इसलिए क्‍योंकि भारतीय एक्‍टर देव पटेल को 'लायन' फिल्‍म में अभिनय के लिए सर्वश्रेष्‍ठ सहायक अभिनेता के नामित किया गया है. यदि वह इस अवॉर्ड को हासिल करने में कामयाब हो जाते हैं तो ऑस्‍कर जीतने वाले पूरी तरह से पहले भारतीय एक्‍टर होंगे. हालांकि इससे पहले म्‍यूजिक डायरेक्‍टर एआर रहमान समेत कई कलाकारों को कई विभिन्‍न श्रेणियों में ऑस्‍कर मिल चुका है लेकिन एक्टिंग के क्षेत्र में किसी भारतीय एक्‍टर को ऑस्‍कर नहीं मिला है.

हालांकि भारत से जुड़े ब्रिटिश एक्‍टर बेन किंग्‍सले को 1983 में 'गांधी' फिल्‍म के लिए सर्वश्रेष्‍ठ अभिनेता का ऑस्‍कर पुरस्‍कार मिल चुका है. बेन के पिता गुजरात मूल के थे. इस लिहाज से बेन के तार भारत से जुड़े हैं.

उल्‍लेखनीय है कि बेस्ट सपोर्टिंग रोल के लिए फिल्म 'लायन' के लिए देव पटेल की टक्कर महेर्शाला अली  (मूनलाइट), जेफ  ब्रिजेस (हेल और हाई वाटर ) और लुकास  हेजेज (मेनचेस्टर बाई थे सी) के साथ है. हालांकि सबसे कड़ा मुकाबला देव पटेल और महेर्शाला अली के बीच में माना जा रहा है. यदि अली यह अवॉर्ड जीतते हैं तो इसे पाने वाले पहले मुस्लिम एक्‍टर होंगे.

हाल में हुए ब्रिटिश फिल्म अवार्ड्स में भारत के लिए गर्व का पल रहा जब देव पटेल को फिल्म लायन के लिए बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का अवार्ड मिला. गार्थ डेविस के निर्देशन में बानी 'लायन' में देव पटेल एक ऐसे भारतीय लड़के का किरदार कर रहे हैं जिसको बचपन में एक ऑस्‍ट्रेलियाई परिवार अपना लेता है लेकिन जब वह बड़ा होता है तो गूगल के सहारे अपने जैविक माता-पिता को खोज लेता है. माना जा रहा है कि यह फिल्‍म एक सच्‍ची घटना पर आधारित है. 'लायन' को ऑस्कर समारोह में 5 श्रेणियों में नामंकित किया गया है जिनमें बेस्ट फिल्म, बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर, बेस्ट म्यूजिक, सिनेमेटोग्राफी जैसी श्रेणियां शामिल हैं. हॉलीवुड में 26 तारीख की रात ऑस्‍कर पुरस्‍कारों को दिया जाएगा.



news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

Saturday, 25 February 2017

ईपीएफओ अपने करीब चार करोड़ सदस्यों के लिए करेगी आवास योजना की शुरुआत - EPFO to launch housing scheme for 4 cr member



नई दिल्ली: अगर आपका ईपीएफ खाता है तो घर खरीदने की आपकी कोशिश अब रंग ला सकती है. सेवानिवृत्ति निधि निकाय यानि  ईपीएफओ अपने करीब चार करोड़ सदस्यों के लिए अगले महीने आवास योजना की शुरुआत कर रहा है जिसमें उसके सदस्य घर खरीदने के लिए अपने ईपीएफ खाते से भुगतान कर सकते हैं या ईएमआई भी दे सकते हैं.

सूत्रों की मानें तो ईपीएफओ ने अपने ग्राहकों के लिए आवास योजना को ठोस रूप दे दिया है. इस स्कीम को आठ मार्च के बाद किसी भी समय पेश किया जा सकता है. आठ मार्च तक पांच राज्यों के चुनाव समाप्त हो जायेंगे. उन्होंने कहा कि योजना के तहत ईपीएफओ अपने सदस्यों के लिए सहायता प्रदाता के रूप में काम करेगा ताकि वे अपनी सेवाअवधि के दौरान अपने लिए घर खरीद सकें.

उन्होंने कहा कि ईपीएफओ के ग्राहक सदस्यों के साथ साथ उनके नियोक्ताओं को एक ग्रुप हाउसिंग सोसायटी बनाने की जरूरत होगी जो आगे बैंकों और बिल्डरों या विक्रेताओं से गठजोड़ करेंगे ताकि सदस्य घर खरीद सकें. इस योजना के तहत इस बात की परिकल्पना की गई है कि ग्रुप हाउसिंग सोसायटी में कम से कम 20 सदस्य हों ताकि इस सुविधा का लाभ लिया जा सके. सूत्रों के अनुसार ग्राहक सदस्य विभिन्न आवास योजनाओं जैसे कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मिलने वाले लाभों को एक साथ जोड़ सकते हैं ताकि सरकार के सभी के लिये आवास के लक्ष्य पाने में आगे बढ़ा जा सके.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

Videos

News by Topic...

Politics (1021) States (918) India (602) international (510) Controversy (371) sports (365) entertainment (288) economy (142) articles (120) religion (64) Social (50) mithilesh2020 (36) career (34) hindi news (29) top5 (23) narendra modi (9) images (8) others (8) Stories (2)

Follow by Email

News Archive

Contact Form

Name

Email *

Message *

Translate

WEBSITE BY...


क्या आप भी न्यूज, व्यूज या अन्य पोर्टल बनवाने के इच्छुक हैं? फोन करें

 मिथिलेश को: 99900 89080