Latest News

Sunday, 26 March 2017

डिजिटल लेन देन के जरिये काले धन, भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में वीर सैनिक बन सकते हैं आप : पीएम मोदी - Pm narendra modi address nation



नयी दिल्ली : कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई जारी रखने पर जोर देते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि विमुद्रीकरण के बाद पिछले कुछ महीनों में डिजिटल भुगतान में वृद्धि हुई है और देश का प्रत्येक नागिरक डिजिटल व्यवस्था में हिस्सेदार बनकर काले धन और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई का वीर सैनिक बन सकता है.



आकाशवाणी पर प्रसारित ‘मन की बात' कार्यक्रम में अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘ काले धन, भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई को हमें आगे बढ़ाना है. सवा-सौ करोड़ देशवासी इस एक वर्ष में ढाई हजार करोड़ डिजिटल लेन-देन का काम करने का संकल्प कर सकते हैं क्या? हमने बजट में घोषणा की है. '' उन्होंने कहा कि सवा-सौ करोड़ देशवासियों के लिये अगर वे चाहे तो इस काम के लिए एक साल का इंतजार करने की जरुरत नहीं, छह महीने में कर सकते हैं.


ढाई हजार करोड़ डिजिटल लेनदेन को पूरा करना चाहे हम स्कूल में फीस भरेंगे तो कैश से नहीं भरेंगे, डिजिटल से भरेंगे, हम रेलवे में प्रवास करेंगे, विमान में प्रवास करेंगे, डिजिटल से भुगतान करेंगे. हम दवाई खरीदेंगे तब डिजिटल भुगतान करेंगे. हम सस्ते अनाज की दुकान चलाते हैं, हम डिजिटल व्यवस्था से करेंगे. रोजमर्रा की जिन्दगी में ये कर सकते हैं हम. आपको कल्पना नहीं है, लेकिन इससे आप देश की बहुत बड़ी सेवा कर सकते हैं और काले धन, भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई के आप एक वीर सैनिक बन सकते हैं.

प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले कुछ महीनों में हमारे देश में एक ऐसा माहौल बना, बहुत बड़ी मात्रा में लोग डिजिटल भुगतान के डिजिधन आंदोलन में शरीक हुए. बिना नकद कैसे लेन-देन किया जा सकता है, उसकी जिज्ञासा भी बढ़ी है, गरीब से गरीब भी सीखने का प्रयास कर रहा है और धीरे-धीरे लोग भी बिना नकद कारोबार कैसे करें, उसकी ओर आगे बढ़ रहे हैं.

मोदी ने कहा कि नोटबंदी के बाद से डिजिटल भुगतान के अलग-अलग तरीकों में काफी वृद्धि देखने को मिली है. भीम एप्प को प्रारंभ किए हुए अभी दो-ढाई महीने का ही समय हुआ है, लेकिन अब तक करीब-करीब डेढ़ करोड़ लोगों ने इसे डाउनलोड किया है. प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले दिनों लोक-शिक्षा के लिये, लोक-जागृति के लिये डिजिधन मेला के कई कार्यक्रम हुए हैं. देश भर में 100 कार्यक्रम करने का संकल्प है.

80-85 कार्यक्रम हो चुके हैं. उसमें इनाम योजना भी थी. करीब साढे बारह लाख लोगों ने उपभोक्ता वाला ये इनाम प्राप्त किया है. 70 हजार लोगों ने व्यापारियों के लिये जो इनाम था, वह प्राप्त किया है. और हर किसी ने इस काम को आगे बढ़ाने का संकल्प भी किया है.

उन्होंने कहा कि 14 अप्रैल को डॉ. बाबा साहेब अम्बेडकर की जन्म-जयंती है और बहुत पहले से जैसे तय हुआ था, 14 अप्रैल को बाबा साहेब अम्बेडकर की जन्म-जयंती पर इस डिजि-मेला का समापन होने वाला है. सौ दिन पूरे होने पर बहुत बड़ा कार्यक्रम होने वाला है. बहुत बड़े ड्रा का भी उसमें प्रावधान है. मोदी ने कहा, ‘‘ मुझे विश्वास है कि बाबा साहेब अम्बेडकर की जन्म-जयंती का जितना भी समय अभी हमारे पास बचा है, भीम एप्प का हम प्रचार करें. नकद कम कैसे हो, नोटों का व्यवहार कम कैसे हो, उसमें हम अपना योगदान दें. ''


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आकाशवाणी से आज 30वीं बार 'मन की बात' कार्यक्रम में देश को संबोधित किया. उन्होंने कहा, देशवासी अगर संकल्प के साथ कोई काम करते हैं तो हमारा न्यू इंडिया का सपना पूरा होगा. उनहोंने कहा, अगर देश के सवा सौ करोड़ देशवासी सप्ताह में एक दिन अगर पेट्रोल और डीजल का प्रयोग नहीं करने का संकल्प लेते हैं तो बहुत लाभ होगा. एक तो ऊर्जा की बचत होगी और दूसरा पर्यावरण की सुरक्षा भी होगी.


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बांग्लादेश के स्वतंत्रता दिवस पर वहां की जनता को बधाई दी और कहा कि भारत बांग्लादेश का मित्र है. उन्‍होंने कहा, आज 26 मार्च है, 26 मार्च बांग्लादेश का स्वतंत्रता का दिवस है. अन्याय के ख़िलाफ़ एक ऐतिहासिक लड़ाई, बंग-बन्धु के नेतृत्व में बांग्लादेश की जनता की अभूतपूर्व विजय. आज के इस महत्वपूर्ण दिवस पर मैं बांग्लादेश के नागरिक भाइयों-बहनों को स्वतंत्रता दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनायें देता हूं, और यह कामना करता हूं कि बांग्लादेश आगे बढ़े, विकास करे और बांग्लादेशवासियों को भी मैं विश्वास दिलाता हूं कि भारत बांग्लादेश का एक मज़बूत साथी है, एक अच्छा मित्र है और हम कंधे-से-कंधा मिला करके इस पूरे क्षेत्र के अन्दर शांति, सुरक्षा और विकास में अपना योगदान देते रहेंगे.


पीएम मोदी ने देश के शहीदों को याद किया. उन्‍होंने शहीद भगत सिंह को याद करते हुए उन्‍हें प्रेरणा का स्त्रोत बताया. मोदी ने कहा, 23 मार्च को भगत सिंह को उनके साथियों के साथ फांसी पर लटका दिया गया था. अंग्रेज भगत सिंह, राजगुरू और सुखदेव से डरते थे, इसीलिए एक दिन पहले ही उन्‍हें फांसी दे दी. भगत सिंह, राजगुरू और सुखदेव की गाथा को हम शब्दों में बयां भी नहीं कर सकते. देश के युवाओं से अनुरोध है जब भी समय मिले भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु की समाधि पर जरूर जाएं.


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महात्‍मा गांधी और उनके चंपारण सत्‍याग्रह को याद किया. उन्होंने कहा, यह चंपारण सत्याग्रह का शताब्दी वर्ष है, सार्वजनिक जीवन की शुरुआत करने वाले किसी भी व्यक्ति को चंपारण सत्याग्रह का अध्यन जरूर करना चाहिए. गांधी ने एक सिक्के के दो पहलू बना दिए थे, एक सिक्के का पहलू संघर्ष, तो दूसरा पहलू सृजन था. उन्होंने कहा, गांधी की कार्यशैली में एक बड़ा अद्भुत बैलेंस था.


न्यू इंडिया को सरकारी कार्यक्रम नहीं है. यह सवा सौ करोड़ देशवासियों का सपना है. छोटी-छोटी चीजों के जरिए लोग न्यू इंडिया का सपना पूरा होते हुए देख पाएंगे.  देशवासी संकल्प करें और मिलकर कदम उठाएंतो न्यू इंडिया का सपना हमारे सामने सच हो सकता है.


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मन की बात में कहा, कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई को आगे बढ़ाना है. उनहोंने डिजिटल लेन-देन को बढ़ावा देने की बात की और कहा, पिछले कुछ महीनों में बहुत बड़ी मात्रा में लोग डिजिधन आंदोलन में शामिल हुए. नोटबंदी के बाद से डिजिटल पेमेंट के अलग-अलग तरीक़ों में काफ़ी वृद्धि देखने को मिली है. पीएम मोदी ने कहा, ब्लैक मनी के खिलाफ लड़ाई आगे बढ़ाने के लिए देशवासी एक वर्ष में 2500 करोड़ डिजिटल लेन-देन करने का संकल्प कर सकते हैं क्या ?. ढेड़ करोड़ लोगों ने भीम एप डाउनलोड किया और 70,000 लोगों ने व्यापारियों वाला पुरस्कार प्राप्त किया.


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ट्रैफिक नियमों का पालन करें और एक दिन पेट्रोल डीजल का प्रयोग न करने का संकल्प करें. स्वच्छता ने आंदोलन का रूप लिया, मैं चाहता हूं, देशवासियों के मन में गन्दगी के लिए गुस्सा पैदा हो. एक बार गुस्सा पैदा होगा तो हम ही गंदगी के खिलाफ़ कुछ-न-कुछ करने लगेंगे. हम प्लेट में उतना ही खाना लें जितना खा सकें, खाना बर्बाद ना करें. 7 अप्रैल, विश्व स्वास्थ्य दिवस है इस बार यूएन ने विश्व स्वास्थ्य दिवस पर डिप्रेशन विषय पर फोकस किया है. डिप्रेशन में सप्रेशन की जगह एक्र्सप्रेशन जरूरी है.
पिछली बार 26 फरवरी को प्रधानमंत्री मोदी ने अपने मन की बात में भारतीय वैज्ञानिकों की उपलब्धियों की चर्चा की थी. जिसमें उन्‍होंने कहा था कि 15 फरवरी 2017 का दिन सदा याद रखा जाएगा.
इसी दिन हमारे देश के वैज्ञनिकों ने दुनिया के सामने देश का मस्‍तक ऊचां किया है. इसरो ने कई अभूतपूर्व मिशन को सफलतापूर्वक पूर्ण किया है. गौरतलब हो कि 15 फरवरी को इसरो ने एक साथ 104 उपग्रहों को अंतरिक्ष में सफलतापूर्वक स्‍थापित कर इतिहास रच डाला था.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

No comments:

Post a Comment

News by Topic...

States (1780) Politics (1738) India (1074) international (865) sports (701) entertainment (588) Controversy (539) economy (148) articles (120) religion (88) Social (50) career (43) mithilesh2020 (36) hindi news (29) top5 (23) narendra modi (9) images (8) others (8) Stories (2)

Follow by Email

News Archive

Contact Form

Name

Email *

Message *

Translate

WEBSITE BY...


क्या आप भी न्यूज, व्यूज या अन्य पोर्टल बनवाने के इच्छुक हैं? फोन करें

 मिथिलेश को: 99900 89080