Latest News

Wednesday, 6 September 2017

वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के 11 घंटों के बाद भी सामने नहीं आया सुराग - journalist gauri lankesh shot dead at doorstep



बेंगलुरु: बेंगलुरु में वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के 11 घंटों के बाद भी सुराग के नाम पर अभी कुछ सामने नहीं आया है. मंगलवार शाम दो हमलावरों ने 8 बजे के करीब उनके घर में घुसकर उन्हें गोलियां मारी. हमलावरों की संख्या दो बताई जा रही है. घर के बरामदे में खड़ी गौरी पर ताबड़तोड़ फ़ायरिंग शुरू कर दी. हत्यारों ने 7 राउंड गोलियां चलाईं, गौरी को तीन गोलियां लगी और मौक़े पर ही उनकी मौत हो गई. पुलिस पास की एक इमारत में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज से हत्यारों की पहचान में जुटी है. हत्यारों की गिरफ़्तारी के लिए पुलिस की तीन टीमें बनाई गई हैं. 'गौरी लंकेश पत्रिके' की संपादक गौरी हित्दुत्व की राजनीति की मुखर आलोचक थीं. पिछले साल उन्हें मानहानि केस का दोषी पाया गया था. बीजेपी नेता के ऊपर की गई एक रिपोर्ट के मामले में बीजेपी सांसद प्रह्लाद जोशी ने उन पर मानहानि का केस किया था.



कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्दारमैया ने गौरी लंकेश की हत्या पर ट्वीट कर अफसोस जताया है. उन्होंने लिखा है कि जानी-मानी पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के बारे में जानकर स्तब्ध हूं. इस जघन्य अपराध की निंदा करने के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं. ये लोकतंत्र की हत्या है. उनके निधन से कर्नाटक ने एक मज़बूत प्रगतिशील आवाज़ खो दी है, और मैंने एक दोस्त खो दिया है.



कर्नाटक के गृहमंत्री जी परमेश्वर ने लिखा है कि पिछले हफ़्ते उन्होंने मुझे फ़ोन किया था. वह मुझसे मिलना चाहती थीं. तब मैं गृह मंत्री नहीं था.मैंने उनसे सोमवार को आने को कहा. मैंने उसी दिन मिलने को कहा, लेकिन उन्होंने सोमवार को मिलने की बात कही. मैंने अपने डीजी को फ़ोन किया. वो डीजी से दो-तीन बार मिली थीं, लेकिन दूसरे कामों को लेकर. उन्होंने कभी कुछ नहीं कहा. उन्होंने कभी सुरक्षा नहीं मांगी थी.

बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर टी सुनील कुमार ने कहा कि करीब 8 बजे जब गौरी लंकेश घर आईं तो उन्होंने गेट के सामने कार पार्क की और जब वह गेट खोल रही थीं तो उन्हें गोली मारी गई. जब पड़ोसी उन्हें देखने आए तो उन्होंने देखा कि गौरी लंकेश घर के बरामदे में गिरी हुई हैं. उन लोगों ने पुलिस को सूचना दी. पुलिस आई तो देखा कि गौरी ख़ून से सनी पड़ी हैं. वहां पर चार ख़ाली कारतूस मिले.उन चार में से कितनी गोलियां उन्हें लगी ये स्टमार्ट्म के बाद पता चलेगा.



गौरी लंकेश की दोस्त ने बताया कि वह उन सभी लोगों की अच्छी दोस्त थी जो धर्मनिरपेक्षता को समझते थे. उन लोगों ने उन्हें मार दिया.

सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर ने कहा कि इस तरह की हत्या जनतंत्र और इंसानियत के खिलाफ है. मेधा पाटकर कलबुर्गी, पानसरे और दाभोलकर की हत्या में अब तक सज़ा नहीं. जब तक इन केसों में सज़ा नहीं मिलती तब तक ऐसी हत्याएं होती रहेंगी. ऐसे विशेष लोगों और उनके परिवारों को सुरक्षा दी जाए.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर गौरी लंकेश की हत्या पर दुख जताया है. सच्चाई को कभी ख़ामोश नहीं किया जा सकता. गौरी लंकेश हमारे दिलों में ज़िंदा हैं. मेरी संवेदना और स्नेह उनके परिवार के साथ है. दोषियों को सज़ा होनी चाहिए.



पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के विरोध में जगह-जगह प्रदर्शन हो रहे हैं. बेंगलुरु में बीती रात लोगों ने कैंडल मार्च निकाला. आज भी जगह-जगह पर विरोध प्रदर्शन होने हैं. बेंगलुरु, मैंगलोर, मांड्या में हत्या के विरोध में आज प्रदर्शन की तैयारी है. वहीं दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद, चेन्नई में भी गौरी लंकेश की हत्या के विरोध में प्रदर्शन की तैयारी है.



news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

No comments:

Post a Comment

News by Topic...

States (1786) Politics (1741) India (1076) international (867) sports (704) entertainment (588) Controversy (539) economy (148) articles (120) religion (88) Social (50) career (43) mithilesh2020 (36) hindi news (29) top5 (23) narendra modi (9) images (8) others (8) Stories (2)

Follow by Email

News Archive

Contact Form

Name

Email *

Message *

Translate

WEBSITE BY...


क्या आप भी न्यूज, व्यूज या अन्य पोर्टल बनवाने के इच्छुक हैं? फोन करें

 मिथिलेश को: 99900 89080