Latest News

Tuesday, 12 September 2017

डेरा सच्चा सौदा मुख्यालय में तलाशी अभियान के बाद हुआ चौंकाने वाला खुलासा - uncovering the money trail of empire of gurmeet ram rahim and dera sacha sauda



सिरसा: दो साध्वियों से बलात्कार का दोषी गुरमीत राम रहीम 20 साल की सजा काट रहा है. सिरसा में डेरा सच्चा सौदा मुख्यालय में तलाशी अभियान के बाद राम रहीम के रहस्य लोक से धीरे धीरे पर्दा उठा, तो कई चौंकाने वाले खुलासे होने लगे. एक तरफ स्किन बैंक का खुलासा हुआ, जिसमें कई तरह की अनियमितताएं पाई गईं. यह इस ओर इशारा करता है कि कि कहीं डेरे से मानव अंगों की तस्करी तो नहीं होती थी. परिसर में हथियार, अवैध पटाखों की फैक्ट्री मिली. साथ ही ये भी पता चला कि गुरमीत की गुफा से साधिवयों के रहने की जगह तक एक सुरंग जाती थी. अब हम आपको गुरमीत राम रहीम की संपत्ति के बारे में बताने जा रहे हैं कि आखिर वह कैसे इतने बड़े साम्राज्य का मालिक बना. तलाशी अभियान में गुरमीत राम रहीम के वित्तीय साम्राज्य, आलीशान इमारतें, आंख चौंधियाने वाली साजो सज्जा, बेशकीमती कारों का काफिला और महंगी चीजों का अंतहीन सिलसिला दिखने लगा.



डेरे के इस असीम संपत्ति की पड़ताल की तो चौंकाने वाले खुलासे हुए. जिस डेरे से ये उम्मीद की जाती थी कि वो अपने भक्तों को तप और त्याग का पाठ पढ़ाएगा, वो अय्याशी और ऐशो-आराम का अड्डा बन गया. अगर कानूनी पहलू की बात करें तो डेरा सच्चा सौदा एक रजिस्टर्ड चैरिटी ट्रस्ट है, जिसे टैक्स में छूट मिलती है.



कानून के मुताबिक इस पैसे का इस्तेमाल सिर्फ चैरिटी के लिए हो सकता है, लाभ कमाने के लिए नहीं. लेकिन एनडीटीवी की पड़ताल में पता चला कि कैसे भक्तों से मिले पैसे को डेरा ने निजी लाभ के लिए इस्तेमाल किया. पैसे भी थोड़े बहुत नहीं. मीडिया रिपोर्ट की मानें तो डेरा में हर साल करीब 1000 करोड़ रुपये आते थे.

गुरमीत राम रहीम भक्तों के इन पैसे को अपने ऐशो आराम, प्रचार और अपनी निजी जिंदगी पर खर्च करता था. एनडीटीवी की टीम ने उस मनी ट्रायल की जड़ तक पहुंचने की कोशिश की.

राम रहीम के पैसों की पड़ताल

  • 51 करोड़ के संदिग्ध फंड से चमके बाबा
  • चार कंपनियों को डेरा से 1.33 करोड़ का लोन
  • गुमनाम शेयर होल्डर ने डेब्यू फ़िल्म मैसेंजर ऑफ़ गॉड में लगाए 18 करोड़
  • बाबा फिल्म और हकीकत इंटरटेनमेंट के माध्यम से फर्जीवाड़ा
  • बाबा की फिल्म और रिएलिटी कंपनी जो चल रही है, वो खाली दफ्तरों में है
  • फर्जी पते पर अलग-अलग 15 कंपनियों का खुलासा


सुपरहिट फ़िल्मों का सच

  • पहले 3 साल घाटे में रही हकीकत इंटरटेनमेंट (2009 में ये कंपनी बनी. 2011 में पहली फिल्म बनी)
  • कंपनी को अज्ञात सोर्स से मिले 19 करोड़
  • बाबा फिल्म को भी मिले 9 करोड़
  • बाबा फिल्म ने 11 करोड़ का कारोबार किया
  • व्यापार किस चीज का हुआ, इसकी जानकारी नहीं
  • बाबा फिल्म ने अज्ञात पैसे से 11 करोड़ की जमीन खरीदी
  • राम रहीम की फिल्म को 15 करोड़ का घाटा हुआ
  • 40 करोड़ में बनी फिल्म के राइट्स 25 करोड़ में बेचे गए
  • अज्ञात चीजों को बेचकर बाबा फिल्म ने दिखाया 70% का मुनाफा
  • कहा गया कि फिल्म MSG को 100 करोड़ से अधिक का फायदा



राम रहीम के रिसॉर्ट में किसका पैसा लगा?




  • रिसॉर्ट में अज्ञात स्रोत ने लगाए 32 करोड़
  • गुमनाम शेयर होल्डर ने की रिसॉर्ट में फंडिंग
  • अज्ञात शेयर होल्डर ने लगाए 18 करोड़
  • अज्ञात स्रोत से मिले 15 करोड़ से खरीदा रिसॉर्ट



news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

No comments:

Post a Comment

News by Topic...

States (2038) Politics (1904) India (1181) international (948) sports (788) entertainment (663) Controversy (563) economy (148) articles (120) religion (99) Social (50) career (43) mithilesh2020 (36) hindi news (29) top5 (23) narendra modi (10) images (8) others (8) Stories (2)

Follow by Email

News Archive

Contact Form

Name

Email *

Message *

Translate

WEBSITE BY...


क्या आप भी न्यूज, व्यूज या अन्य पोर्टल बनवाने के इच्छुक हैं? फोन करें

 मिथिलेश को: 99900 89080