Latest News

Friday, 20 April 2018

अफसरों को आपसी गुटबाजी को खत्म करने की सलाह दी सीएम शिवराज ने - cm shivrajs advice to officers do not act like india and pakistan



नई दिल्लीः शांत स्वभाव के माने जाने वाले सीएम शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार को सिविल सर्विस डे पर एक अलग ही अंदाज में नजर आए. प्रशासनिक अकादमी में आयोजित कार्यशाला में सीएम शिवराज ने कहा कि अधिकारियों को आपस में शांतिपूर्वक काम करना चाहिए न कि भारत और पाकिस्तान की तरह. दरअसल, सिविल सर्विस डे पर सीएम शिवराज प्रशासन अकादमी पहुंचे थे. इस दौरान सीएम शिवराज ने अफसरों को ऐशो आराम छोड़ने और आपसी गुटबाजी को खत्म करने की सलाह दी. कार्यशाला में मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से आपस में समन्वय और शांति से काम करने की नसीहत दी. उन्होंने कहा कि कई बार देखा गया है कि अधिकारी अपना अलग-अलग गुट बना लेते हैं और आपस में शत्रुओं की तरह टकराव रखते हैं. आपस में ऐसा व्यवहार बिल्कुल गलत है. अधिकारियों को एक-दूसरे का मित्र बनकर देश सेवा में एक दूसरे का सहयोग करना चाहिए.



मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकारियों को सिविल सर्विसेज की प्रतिष्ठा और विश्वसनीयता को बढ़ाने का प्रयास करना चाहिए और इसे धूमिल होने से बचाना चाहिए. अधिकारियों को प्रदेश के विकास के लिए साथ मिलकर काम करना चाहिए. प्रदेश में प्रशासन में सुधार के लिए फिर से सोच-विचार की प्रक्रिया शुरू की जाएगी. अपने भाषण के दौरान सीएम शिवराज ने नौकरशाहों पर भी कड़ी प्रतिक्रिया जताई और कहा कि ये ऐशो-आराम की नौकरी नहीं है. ये एक मिशन है, जिसे पूरा करने के लिए आप सभी को ऐशो-आराम छोड़कर अपने काम पर ध्यान देने की जरूरत है. मुख्यमंत्री ने अफसरों को गीता के श्लोक का संदर्भ देते हुए कि हमेशा अच्छे कार्यकर्ताओं का स्मरण करते रहें इससे आपका जीवन और बेहतर होगा.



सीएम शिवराज ने कहा कि देश के विकास में सिविल सेवा का महत्वपूर्ण योगदान होता है. ऐसे में जरूरी है कि ये विभाग आपस में सामंजस्य बनाए रखें और देश के लिए कैसे और बेहतर काम किया जा सकता है इस पर चिंतन करें. फैसलों में तेजी और ताकत की जरूरत है और जरूरत है कि इस बात पर भी ध्यान दिया जाए कि कैसे हर योजना का लाभ प्रदेश के हर व्यक्ति तक पहुंचे. अगर कोई योजना असफल होती है तो ये किसी अफसर की नहीं बल्कि पूरी सरकार की असफलता होती है. लोकायुक्त जैसे मामलों में कई बार अफसर फंस तो जाते हैं लेकिन बाद में उनके खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की जाती गुटबाजी के चलते उनके खिलाफ किसी तरह के सबूत मिलते. जिससे कई सरकारी योजनाएं प्रभावित होती हैं. अफसरों में ये गुटबाजी काफी तकलीफदेह होता है. इस गुटबाजी के चलते मुझे भारत, पाकिस्तान जैसा लगता है. इसलिए जरूरी है कि सभी अफसर अपने काम को पूरी सच्चाई से करें. ताकि देश के विकास में किसी तरह की बाधा न आए.


news in hindi, hind news, all news hindi, latest news, latest hindi news, latest news updates in hindi, hindi samachar, hindi samachar paper, hindi samachar latest, today news in hindi, hindi news today live, hindi news live, top news today in hindi, hindi news papers, hindi newspapers, newspaper in hindi, hindi news papers online, all hindi news papers, hindi newspapers and news sites, aaj tak hindi news, online hindi news, breaking news in hindi, hindi breaking news, hindi news sites, hindi news website, web hindi news, taja news hindi, daily news hindi, recent news in hindi, recent hindi news,


इसे भी पढ़िएएक बेहतरीन हिंदी न्यूज पोर्टल कैसा हो?

न्यूज, लेख यहाँ ढूंढिए...

No comments:

Post a Comment

News by Topic...

States (2335) Politics (2131) India (1318) international (1053) sports (920) entertainment (741) Controversy (585) economy (148) articles (120) religion (106) Social (50) career (43) mithilesh2020 (36) hindi news (29) top5 (23) narendra modi (10) images (8) others (8) Stories (2)

Follow by Email

News Archive

Contact Form

Name

Email *

Message *

Translate

WEBSITE BY...


क्या आप भी न्यूज, व्यूज या अन्य पोर्टल बनवाने के इच्छुक हैं? फोन करें

 मिथिलेश को: 99900 89080